Ribosome function and structure in hindi राइबोसोम पूरी जानकारी

 Ribosome function and structure in hindi  राइबोसोम पूरी जानकारी

राइबोसोम कितने प्रकार के होते हैं राइबोसोम का कार्य है Ribosomes function राइबोसोम में S का अर्थ है राइबोसोम चित्र 70S राइबोसोम

हेल्लो दोस्तो आज इस आर्टिकल में मैंने राइबोसोम्स (Ribosomes) के बारे में बताया है जिसमें मैने बताया कि अत्यन्त सूक्ष्म कण होते हैं, जिन्हें केवल इलेक्ट्रॉन

सूक्ष्मदर्शी से देखा जा सकता है। इनमें से कुछ तो कोशिका द्रव्य में तैरते रहते हैं तथा इनकी काफी बड़ी संख्या अन्तर्द्रव्यी जालिका(Endoplasmic Reticulum) की नलिकाओं पर लगी रहती है। इनका निर्माण केवल प्रोटीन तथा राइबोन्यूक्लिक एसिड (RNA) से होता है।

राइबोसोम की खोज  Palade नामक वैज्ञानिक ने की थी। राइबोसोम्स के प्रकार (Types of Ribosomes). अवसादन गुणांक (Sedimentation Constant). स्वेडबर्ग यूनिट (Svedberg unit) राइबोसोम्स के कार्य (function of Ribosomes). इस सब टॉपिक की जानकारी दी है। 

राइबोसोम राइबोन्यूक्लिओ-प्रोटीन के बने अत्यंत सूक्ष्म कण होते हैं।  राइबोसोम RNA + protein की बनी घुण्डी के आकार की सूक्ष्म कणिकाएँ हैं।अथवाराइबोसोम्स निर्माण केवल प्रोटीन तथा RNA से होता है।

राइबोसोम की खोज पैलेड (Palade) नामक वैज्ञानिक ने 1955 ई. में की थी।

(adsbygoogle = window.adsbygoogle || []).push({});

कुछ राइबोसोम्स कोशिका द्रव्य में तैरते रहते हैं तथा इनकी काफी बड़ी संख्या अन्तर्द्रव्यी जालिका (Endoplasmic Reticulum) की नलिकाओं पर लगी रहती है। इसके अलावा राइबोसोम माइटोकॉण्ड्रिया तथा क्लोरोप्लास्ट में भी पाये जाते हैं।

राइबोसोम की संरचना

राइबोसोम सूक्ष्म, गोलाकार कण हैं। इनका व्यास 150 अंगस्ट्राम से 250 अंगस्ट्राम होता है। इन्हें केवल इलेक्ट्रॉन सूक्ष्मदर्शी द्वारा देखा जा सकता है। प्रत्येक राइबोसोम दो उप इकाइयों (sub-units) का बना होता है।

राइबोसोम के प्रकार

आकार एवं अवसादन गुणांक के आधार पर ये दो प्रकार के होते हैं-

1.70S राइबोसोम

2.80S राइबोसोम

(i) 70S राइबोसोम-

ये आकार में छोटे होते हैं और इनका अवसादन गुणांक 70S होता है। इस प्रकार के राइबोसोम प्रोकैरियोटिक जीवधारियों में मिलते हैं जैसे- जीवाणु, नील हरित शैवाल आदि। 70S राइबोसोम यूकैरियोटिक जीवधारियों के

माइटोकॉण्डिया व क्लोरोप्लास्ट में भी मिलते हैं। 70S राइबोसोम 50s और 30s का बना होता है। 50s उप-इकाई आकार में बड़ी होती है और उसके ऊपर छोटी 30s उप-इकाई, टोपी के रूप में होती है।

(ii) 80S राइबोसोम-

80S राइबोसोम आकार में बड़े होते हैं और इनका अवसादन गुणांक 80S होता है। ये यूकैरियोटिक जीवों में मिलते हैं। 80S राइबोसोम भी दो उप-इकाइयों से मिलकर बने होते हैं। 80S राइबोसोम में बड़ी उप-इकाई 60s और छोटी उप-इकाई 40s होती है।

अवसादन गुणांक (Sedimentation Coefficient)

राइबोसोम के अध्ययन के लिए एक विशेष यन्त्र प्रयुक्त होता है जिसे अल्ट्रासेंट्रीफ्यूज कहते हैं। राइबोसोम के घोल को विशेष प्रकार की नलियों में डालकर जब तेजी से घुमाया जाता है, तो विभिन्न आकारों के राइबोसोम भिन्न भिन्न गति से नली की तली पर बैठते हैं। इस गति को अवसादन गुणांक (Sedimentation Constant) कहते हैं और इसको मापने की इकाई स्वेडबर्ग यूनिट (Svedberg unit) है जिसे 'S' चिह्न से प्रदर्शित करते हैं।

राइबोसोम के कार्य  (function of Ribosomes)

राइबोसोम का प्रमुख कार्य प्रोटीन-संश्लेषण में सहायता करना है। अर्थात राइबोसोम को कोशिकाओं की 'प्रोटीन फैक्ट्री' कहा जाता है। कोशिका के सभी प्रोटीन व एन्जाइम्स का संश्लेषण राइबोसोम द्वारा ही होता है।

टिप्पणियाँ